Book Bank Scheme

Under the Book Bank Scheme, the college has already purchased books worth Rs. ……….. and distributed these books to the students on returnable basis for the entire academic session.

राजकीय महाविद्यालय भरली आँज भोज में बुक बैंक की सुविधा का प्रारम्भ

राजकीय महाविद्यालय भरली आँज भोज जो कि दूरदराज क्षेत्र में एक महाविद्यालय है जो 2015 में खोला गया था। यह महाविद्यालय निरंतर बुलंदियां हासिल कर रहा है। वर्तमान सत्र में महाविद्यालय द्वारा बुक बैंक की स्थापना की गई है जिसका विधिवत उद्घाटन प्राचार्य श्री राजेंदर कुमार शर्मा द्वारा दिनांक 18 जुलाई 2019 को किया गया।  बुक बैंक स्कीम के अंतर्गत आर्थिक रूप से पिछड़े छात्र-छात्राओं को सभी विषयों की पुस्तकें सम्पूर्ण वर्ष भर के लिए निशुल्क दी जा रही है। इसके लिए विद्यार्थियों से केवल रिफंडेबलसिक्योरिटी जमा करवाई जा रही है जो  सत्र के समाप्त होने पर परीक्षाओं के उपरान्त पुस्तकें वापस जमा करने के बाद बच्चों को पूरी राशि वापस कर दी जाएगी। इस तरह की सुविधा हिमाचल के चंदकॉलेजों में ही उपलब्ध है तथा राजकीय महाविद्यालय भरली किसी  भी अन्य कॉलेजों से पीछे नहीं है जबकि इस महाविद्यालय की स्थापना हुई मात्र 4 वर्ष ही हुए हैं। बी ए प्रथम वर्ष तथा बी ए द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों को मुफ्त पुस्तकें वितरित की गई।

सिरमौर जिले के दूरदराजगिरीपार क्षेत्र में विद्यार्थियों की सुविधाओं के लिए एक अनूठी पहल है ताकि क्षेत्र के गरीब विद्यार्थी समय पर पुस्तकों की उचित सुविधा प्राप्त कर सकें और वह भी निशुल्क। इस कार्य के लिए प्राचार्य श्री राजेंद्र कुमार शर्मा जी व महाविद्यालय के अन्य कर्मचारी बहुत-बहुत बधाई के पात्र हैं जिन्होंने इस सुविधा को छात्र-छात्राओं तक मुहैया करवाया है क्योंकि इस कार्य को अंजाम तक पहुंचाने के लिए कर्मचारियों ने दिन-रात जी तोड़ मेहनत करके इस कार्य को पूरा किया है।